Please wait...

Planning For Future Goals

‘Hi, I came across this really nice video on the Franklin Templeton website. Check it out!’

The financial graph of a typical investor begins from depending wholly on his professional income to being dependent on income generated from his investments after retirement. The greatest contribution that a financial advisor can make is to guide an individual towards creating wealth so that it continues to generate income passively and leads him towards financial freedom when he is close to retirement. Besides retirement, there are other life goals that one needs to plan for. To do this, an advisor may depend on quasi-financial tools like “Family Solutions” from Franklin Templeton. The investor should also be encouraged to start saving as early as possible in small measures so that the idea of investment does not seem intimidating. Take a look at this video to understand how you can make judicious use of quasi-financial tools and your own expertise to help your client plan for his future goals.

एक आम निवेशक का फ़ायनांशियल ग्राफ उसकी प्रोफेशनल आमदनी पर पूरी तरह निर्भरता से शुरू होकर रिटायरमेन्ट के बाद अपने निवेशों से उसे मिलने वाली आमदनी पर निर्भरता तक जाता है. यहां किसी फ़ायनांशियल एडवाइजर का सबसे बड़ा योगदान यही हो सकता है कि वह उस व्यक्ति को ऐसी पूंजी बनाने के लिए गाइड करे जो बिना प्रयास बढ़ती जाए और जब वह रिटायरमेन्ट के करीब हो तो वह उसे फ़ायनांशियल आज़ादी की ओर ले जाए. रिटायरमेन्ट के अलावा, व्यक्ति को जीवन के अन्य लक्ष्यों के लिए प्लानिंग करनी पड़ती है. इसके लिए एडवाइजर फ्रैंकलिन टेम्पलटन के ‘‘ फैमिली सॉल्यूशन्स’’ जैसे क्वासी-फ़ायनांशियल टूल्स पर निर्भर रह सकते हैं. निवेशक को जल्द से जल्द यथासंभव छोटी बचत के साथ शुरूआत करने के लिए प्रोत्साहन दिया जाता चाहिए, ताकि निवेश करने का आयडिया उसे डराए नहीं. इस वीडियो को ध्यान से देखने पर आप समझ सकेंगे कि क्वासी-फ़ायनांशियल टूल्स समझदारी के साथ इस्तेमाल और आपकी अपनी एक्सपर्टाइज़ मिलकर आपके क्लाइंट को उसके भविष्य के लिए प्लान करने में कैसे मदद कर सकते हैं.

લાક્ષણિક રોકાણકારનો આર્થિક આલેખ તેની વ્યાવસાયિક આવક પર સંપૂર્ણ નિર્ભરતા સાથે શરૂ કરતા નિવૃત્તિ પછી તેના રોકાણો માંથી મળતી આવક પર નિર્ભર રહેવા સુધીનો હોય છે. અહીં આર્થિક સલાહકાર આપી શકે એ સૌથી ભવ્ય યોગદાન વ્યક્તિને સંપત્તિ નિર્માણ કરવા માર્ગદર્શન પૂરું પાડવાનું છે, જેથી તે નિષ્ક્રિય રીતે આવક ઊભી કરવાનું ચાલુ રાખે અને વ્યક્તિ નિવૃત્તિની નજીક હોય ત્યારે તેને આર્થિક આઝાદી તરફ લઈ જાય. નિવૃત્તિ ઉપરાંત, જીવનનાં અન્ય લક્ષ્યો પણ છે જેની માટે આયોજન કરવું જરૂરી છે. આ માટે, સલાહકાર ક્વાસી-ફાઈનાન્શિયલ ટૂલ્સ જેમ કે ફ્રેન્કલિન ટેમ્પલટનના "ફૅમિલી સોલ્યૂશન્સ’’ પર આધાર રાખી શકે છે. રોકાણકારને નાનાં નાનાં ઉપાયો દ્વારા વહેલી તકે બચત શરૂ‚કરવા માટે પણ પ્રોત્સાહિત કરવા જોઈએ જેથી રોકાણ કરવાનો વિચાર ભયભીત કરતો ન જણાય. તમારા ગ્રાહકને તેના ભાવિ લક્ષ્યો માટે યોજના કરવામાં સહાયતા માટે તમારી નિપૂણતા સાથે ક્વાસિ-ફાઈનાન્શિયલ ટૂલ્સનો ઉચિત ઉપયોગ તમે કઈ રીતે કરી શકો છો એ સમજવા આ વીડિયો ધ્યાનથી જુઓ.

একজন টিপিক্যাল বিনিয়োগকারীর আর্থিক গ্রাফ সম্পূর্ণরূপে তাঁর পেশাদারী আয় থেকে শুরু হয়ে শেষ হয় অবসরের পরের বিনিয়োগ থেকে পাওয়া আয়ের ওপর নির্ভরশীলতা থেকে| একজন আর্থিক উপদেষ্টা সবচেয়ে ভালো যা করতে পারেন তা হল একজন ব্যক্তিকে ধনসম্পদ সৃষ্টি করতে পথপ্রদর্শন করা যাতে সেটি লুক্কায়িতভাবে আয় দিতে থাকে এবং অবসরের প্রাক্কালে তাকে আর্থিক স্বাধীনতা দিতে পারে| অবসর ছাড়াও, জীবনের অন্যান্য লক্ষ্যের জন্যও একজনকে পরিকল্পনা করতে হয়| এটা করতে, একজন উপদেষ্টাকে আপাত-আর্থিক উপায় যেমন ফ্র্যাঙ্কলিন টেম্পলটনের ``ফ্যামিলি সলিউশনস``-এর ওপর ভরসা রাখতে হয়| যত তাড়াতাড়ি সম্ভব স্বল্প মাত্রায় সঞ্চয় শুরু করার জন্য বিনিয়োগকারীকে উৎসাহ প্রদান করা উচিত যাতে বিনিয়োগের ধারণাটি আতঙ্কজনক না হয়ে ওঠে| এই ভিডিওটি দেখে বুঝুন যে কী করে আপনি আপাত-আর্থিক উপায়ের বিচক্ষণ ব্যবহার করবেন এবং আপনার দক্ষতা দিয়ে কী করে আপনার ক্লায়েন্টকে তাঁর ভবিষ্যৎ লক্ষ্যের জন্য পরিকল্পনা করতে সাহায্য করবেন|

பொதுவாக ஒரு முதலீட்டாளரின் நிதிநிலை அவரது பணி மூலமாக கிடைக்கும் வருமானத்திலிருந்து அவரது ஓய்வுகாலத்துக்கு பின் அவர் செய்த முதலீடுகள் மூலமாக உருவாக்கப்படும் வருமானத்தை சார்ந்திருப்பது வரையே. ஒரு நிதி ஆலோசகர் வழங்கும் மிகச் சிறந்த ஆலோசனை என்பது ஒரு நபருக்கு செல்வம் உருவாக்குவதற்கு வழிகாட்டுவதாகும். அதாவது அவர் வருமானத்தை உருவாக்க தக்க விதத்தில் வழிகாட்டுவதோடு அவர் ஓய்வு பெறும் காலத்தை நெருங்கும்போது அவருக்கு பணம் பற்றிய கவலைகள் ஏதுமின்றி இருப்பதை உறுதி செய்வதாகும். ஓய்வு கால பணத் தேவை என்பது தவிர ஒருவர் திட்டமிட தேவைப்படும் இதர வாழ்க்கை இலக்குகளும் இருக்கும். இதை செய்வதற்கு ஒரு ஆலோசகர் ஃபேமிலி சொலுஷன்ஸ் எனப்படும் ஃப்ராங்ளின் டெம்பிள்டன் வழங்கும் நிதி ஆலோசனை திட்டங்களை சார்ந்திருக்கலாம். முதலீட்டாளர் சிறு முதலீடுகளாக இயன்றவரை விரைவிலேயே செய்ய ஆரம்பிக்க ஊக்கப்படுத்த வேண்டும். இதனால் அவருக்கு முதலீடு செய்வது என்பது ஒரு அச்சுறுத்தலாக இருக்காது. நீங்கள் இத்தகைய நிதி ஆலோசனைகளை எவ்வாறு சரிவர பயன்படுத்துவது என்பதை நன்கு புரிந்து கொள்ளவும் மற்றும் உங்கள் சொந்த நிபுணத்துவம் உங்கள் வாடிக்கையாளருக்கு அவரது வருங்கால இலக்குகளுக்கு ஏற்ப திட்டமிட உதவுவதற்கும் இந்த வீடியோவை பாருங்கள்.